‘भारत विरोधी खबरें’- 747 वेबसाइट्स, 94 यूट्यूब चैनल्स को किया गया ब्लॉक

30

सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, मंत्री ने आगे कहा कि सरकार ने देश की संप्रभुता के खिलाफ काम करने वाली एजेंसियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है.

 

नई दिल्ली: भारत सरकार ने 747 वेबसाइट्स, 94 यूट्यूब चैनल्स और 19 सोशल मीडिया अकाउंट्स को 2021-22 में प्रतिबंधित कर दिया है, जिन पर देश के हितों के काम कर रही थीं, केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.

राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में ठाकुर ने कहा कि मंत्रालय ने 94 यूट्यूब चैनल, 19 सोशल मीडिया अकाउंट और 747 वेबसाइट्स (यूआरएल) के खिलाफ कार्रवाई की है और उन्हें ब्लॉक कर दिया है. मंत्री ने कहा कि ये कार्रवाई सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 की धारा 69ए के तहत की गई है.

सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, मंत्री ने आगे कहा कि सरकार ने देश की संप्रभुता के खिलाफ काम करने वाली एजेंसियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है, जो इंटरनेट पर फर्जी खबरें और प्रचार प्रसार करती हैं

पाकिस्तान से चल रे चैनल्स, वेबसाइट्स किए गए थे ब्लॉक

इससे पहले सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने 21 दिसंबर 2021 को खुफिया एजेंसियों के साथ एक समन्वित प्रयास में 20 यूट्यूब चैनल और दो वेबसाइट को अवरुद्ध (ब्लॉक) करने का आदेश दिया था क्योंकि वे भारत विरोधी दुष्प्रचार और फर्जी खबरें फैला रहे थे.

मंत्रालय ने दो आदेश जारी किए थे, जिनमें से एक में यूट्यूब को 20 चैनलों को अवरुद्ध करने और दूसरे आदेश में दो समाचार वेबसाइट को अवरुद्ध करने का निर्देश दिया था.

Previous articleद्रौपदी मुर्मू को जीत में मिला सभी का सहयोग, विपक्ष के 17 MPs और 104 MLA ने की क्रॉस वोटिंग
Next articleहमारी अर्थव्‍यवस्‍था का आधार मजबूत और लचीला है- शक्तिकांत दास